UP Election 2022 EC Action In Case Of Crowd Gathering In Lucknow, SHO Suspended, ACM First ACP Summoned


UP Assembly Election 2022: यूपी की राजधानी लखनऊ में समाजवादी पार्टी (SP) के मुख्यालय में शुक्रवार को स्वामी प्रसाद मौर्य व अन्य विधायकों के पार्टी में शामिल होने पर आयोजन हुआ था. इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल और धारा 144 का खुला उल्लंघन किया गया. हजारों की भीड़ जुटी थी. चुनाव आयोग के निर्देश पर संबंधित धाराओं में सपा के 2500 अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ FIR दर्ज की गई. अब चुनाव आयोग ने सख्ती करते हुए SHO गौतमपल्ली को सस्पेंड कर दिया. साथ ही ACM प्रथम और ACP से जवाब तलब किया है.

Ads

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने एक प्रेस नोट में कहा, ‘निर्वाचन आयोग ने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में थाना प्रभारी (SHO) गौतमपल्ली, दिनेश सिंह विष्ट को कर्तव्यों के निर्वहन में घोर लापरवाही बरतने के कारण तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा सहायक पुलिस आयुक्त अखिलेश सिंह और अपर नगर मजिस्ट्रेिटप्रथम गोविन्द मौर्य से शनिवार को सुबह 11 बजे तक स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं.’

समाजवादी पार्टी पर एक्शन होना तय

चुनाव आयोग के निर्देश पर सपा कार्यालय में कार्यक्रम में भीड़ को देखते हुए महामारी एक्ट के तहत FIR दर्ज की गई है. इसके साथ ही लखनऊ के गौतम पल्ली थाना में धारा 144 के उल्लंघन का भी केस दर्ज किया गया है. लखनऊ में समाजवादी पार्टी के कार्यालय में कोरोना प्रोटोकाल को ताक पर रखकर छोटी रैली आयोजित की गई. इस दौरान मंच पर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के साथ ही अन्य काफी लोग बिना मास्क के थे. इतना ही नहीं सपा कार्यालय में बड़ी तादाद में लोग बिना मास्क लगाए टहल रहे थे. उत्साह में नियम को ताक पर रखने के मामले में जिला निर्वाचन अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने गंभीरता से लिया है. अब समाजवादी पार्टी पर एक्शन होना तय है.

जिला अधिकारी ने कहा कि सपा का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ. हवाला दिया कि लखनऊ में धारा 144 लागू है. ऐसे में एक स्थान पर पांच या उससे अधिक लोग जुट नहीं सकते हैं. वहीं कोविड-19 का संक्रमण भी काफी तेज है. उसके नियमों का भी खुला उल्लंघन किया गया है. वहीं सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि पार्टी कार्यालय के अंदर वर्चुअल बैठक चल रही थी. हमने किसी को नहीं बुलाया था लेकिन लोग खुद आ गए. लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए काम कर रहे थे.

ये भी पढ़ें-

UP Election 2022: पिछड़ा बनाम बीजेपी, हकीकत और फ़साना – जानिए अब बीजेपी ने चल दिया कौन सा ब्रह्मास्त्र?

मुंबई के धारावी मॉडल ने एक बार फिर दी कोरोना को मात, ऐसे कम होते चले गए केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here