तेज बारिश से ग्रामीणों की बढ़ी परेशानी… सडक़ के बगल से बनाया गया डायवर्ड मार्ग पानी से बहा… आवागमन हुआ अवरुद्ध

महासमुंद: सरायपाली इलाके में शुक्रवार को हुई तेज बारिश से सिंघोड़ा व बिरकोल मार्ग में आवागमन अवरूद्ध हो गया है। जगह-जगह पुल में भारी बारिश से पानी का स्तर बढ़ गया है, वहीं आवागमन के लिए बनाए गए कई जगह डायवर्ड मार्ग भी पानी के तेज बहाव से बह गया।

बताया जा रहा है कि मार्ग का निर्माण पिछले कई महीनों से चल रहा है। ठेकेदार ने पुलिया निर्माण के लिए खोदाई की है और बगल से आवागमन के डायवर्ड मार्ग का निर्माण किया है, लेकिन बारिश में ये मार्ग भी बह गया। अभी भी उस में तीन फीट से अधिक पानी का बहाव है।

Ads

ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्य में लेट लतीफी के चलते ग्रामीणों की परेशानी बढ़ गई है। रात में आवागमन में परेशानी हो रही है। वहीं शनिवार को करीब 20 से 30 गांव का संपर्क सिंघोड़ा से टूट गया है। जानकारी के अनुसार सिंघोड़ा से बिरकोल तक सडक़ का निर्माण बर्बरिक प्रोजेक्ट लिमिटेड नामक कंपनी के द्वारा कराया जा रहा है।

बारिश में काम बंद हो गया है। बारिश के पूर्व ठेकेदार ने पुलिया निर्माण के लिए जगह-जगह गड्?ढा खोदा है और बगल से आवागमन के लिए मार्ग डायवर्ड कर दिया था, ताकि ग्रामीणों को परेशानी न हो, लेकिन सही समय में निर्माण नहीं हो पाया। अब बारिश शुरू हो गई है, पुल-पुलिया का निर्माण अधूरा है।

तेज बारिश से पुलिया का जल स्तर तो बढ़ गया और साथ ही बनाए गए डायवर्ड मार्ग भी तेज बहाव में बह गया। इसकी वजह से सिंघोड़ से बिरकोल के बीच करीब 20 से 30 गांव के लोगों का आवागमन ठप हो गया है। इस मार्ग में 12 से अधिक छोटे बड़े पुल का निर्माण किया जाना है।

यह मार्ग जोड़ता है दो एनएच को
ग्रामीणों ने बताया कि यह मार्ग दो एनएच को जोड़ता है। उन्होंने कहा कि निर्माण में लेट लतीफी के कारण दिक्कतों का सामना आज करना पड़ रहा है। संपर्क टूटने से वे सामान खरीदीने सिंघोड़ा नहीं जा पा रहे हैं। नेशनल हाईवे-53 और नेशनल हाईवे-216 सरायपाली रायगढ को जोडऩे वाली 20 किलोमीटर लंबी इस सडक़ है। इस मार्ग में जगह-जगह पुलिया है, जिसका निर्माण नहीं होने के कारण तेज बारिश से बनाए गए डायवर्ड मार्ग बह गया है।

सरायपाली क्षेत्र में रिकार्ड तोड़ बारिश
बंगाल की खाड़ी में बने निम्र दाब के क्षेत्र का असर शुक्रवार को सरायपाली ब्लॉक में देखने को मिला। शुक्रवार देर शाम शुरु हुई तेज बारिश ने रिकार्ड तोड़ दिया। करीब डेढ़ घंटे के अंदर ब्लॉक में 95 मिमी बारिश हुई। क्षेत्र में शाम साढ़े 7 बजे बारिश का शुरु हुई, जो रात करीब 9 बजे जारी रही। तेज बारिश के थमने के बाद हल्की बारिश यानी रिमझिम बारिश रातभर जारी रही। राजस्व व आपदा प्रबंधन के आकड़ों पर यदि नजर डाले तो सरायपाली ब्लॉक में 95.5 मिमी बारिश दर्ज की गई है।

पिथौरा में सबसे कम 4 मिमी बारिश
जिले के अन्य ब्लॉकों में बारिश सामान्य रही । पिथौरा ब्लॉक में सबसे कम बारिश 4 मिमी दर्ज की गई है। इसके अलावा महासमुंद में 11.2, बसना में 27 और बागबाहरा ब्लॉक में 19.5 मिमी बारिश हुई है। जिले में 1 जून से अब तक कुल 433.6 मिमी बारिश हुई है। इसमें सर्वाधिक बागबाहरा ब्लॉक में 538. 3, महासमुंद में 454.8 मिमी दर्ज की गई है, जबकि सबसे कम पिथौरा में 312.3 मिमी बारिश हुई है। इसके अलावा सराईपाली और बसना ब्लॉक में 431 मिमी बारिश हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here