Raipur Traffic Issue: रायपुर में जहां दिखी सवारी, आटो चालक वहीं लगा रहे ब्रेक

NDIytpxtu at˜fU fUe blbtle fUe Fch =evfU Nw¢˜t .....mJthe z[tgJh fUe mex vh ciXt ýyt

Raipur Traffic Issue: रायपुर (ताजा खबर प्रतिनिधि)। राजधानी में आटो चालकों मनमानी के आगे पुलिस मूकदर्शक रहती है। प्रशासन ने स्टापेज तय कर रखे हैं। इसके बावजूद सड़क पर जहां भी सवारी दिख जाती है आटो चालक अचानक ब्रेक लगा देते हैं। इतना ही नहीं कई बार तो सवारी के लिएउसी गति में बाएं या दाएं बिना संकेतक दिए हीमोड़ देते हैं। वे इस बात की भी परवाह नहीं करते कि उनकेपीछे भी आ रहे वाहन उतनी ही तेज गति में होंगे तो उनका क्या होगा।

ताजा खबर  ने पड़ताल की आटो चालकों की मनमानी की कई तस्वीरें सामने आई है, जिसे देख कर लगता है की रायपुर यातायात पुलिस किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रही है। राजधानी रायपुर में आटो चालकों के हौंसले इतने बुलंद है कि यातायात पुलिस के सामने ही तीन सवारी वाले आटो में क्षमता से अधिक लोगों को बैठाकर यातायात नियमों की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं।
यातायात पुलिस मूकदर्शक इसलिए अव्यवस्था
आटो चालकों के सामने यातायात पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है, जिससे ट्रैफिक व्यवस्था बिगड़ रही है। बाजार में अधिकांश समय इसी वजह से जाम लगा रहता है। राजधानी के फाफाडीह, गोलबाजार, जयस्तंभ चौक घड़ी चौक, और कालीबाड़ी इलाकों में अधिकांश समय आटो वाले सड़क घेरकर खड़े रहते हैं। इसके कारण इस मार्ग पर चलने वालों लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है।
जहां चाहा वहीं बना लिया स्टैंड
राजधानी की सड़कों पर आटो चालकों की वजह से अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है, क्योंकि आटो चालक निर्धारित जगह पर आटो खड़ा नहीं करते हैं। आटो चालकों का जहां मन किया आटो खड़ा कर देते हैं। जाम की वजह बन रहे सड़क पर खड़े आटो को हटवाने के लिए कई बार झगड़े भी हो जाते हैं। राजधानी में आटो चालकों का किराया तो निर्धारित कर दिया है, लेकिन उसके बाद भी आटो चालक यात्रियों से अपने मनानी तरीके से किराया वसूल करते हैं। यात्रियों के सवाल-जवाब करने पर आटो चालक झगड़ा करने पर उतारू हो जाते हैं।
सुबह-शाम जाम की स्थिति
शहर के फाफाडीह, घड़ी चौक, शारदा चौक, जय स्तंभ चौक, कालीबाड़ी, आंबेडकर चौक पर रिक्शों का जमावड़ा सुबह 10 बजे के बाद से देर शाम तक जाम लगा रहता है। इसी समय लोग अपने-अपने काम पर जाते हैं तो शाम को घर लौटते हैं। ऐसे समय में वाहनों का दबाव बना रहता है। ऐसे में आटो चालक कहीं भी खड़ा कर सवारी भरने लगते हैं। इस वजह से अक्सर जाम की नौबत आ जाती है।
जाम की परवाह नहीं करते आटो चालक
शहर के प्रमुख चौक-चौराहों, गलियों और कालोनियों के मोड़ पर आटो अवैध रूप बेतरतीव खड़े रहते हैं। आटो के सड़क पर खड़े होने से बेशक ट्रैफिक जाम होता रहे, लेकिन उनको इसकी परवाह नहीं। वे अपनी मर्जी से शहर में कहीं भी आटो खड़े कर देते हैं। इससे शहर की यातायात व्यवस्था बदहाल होती है।
लोगों का यह है कहना
    • -हर कोई आटो चालकों से परेशान है। कभी भी कहीं से भी आटो मोड देते हैं। कई बार तो खुद को बचाना मुश्किल हो जाता है। – हरदेव चौरसिया
    • -खमतराई से फाफाडीह तक सुबह लंबा जाम रहता है। इसमें ज्यादातर आटो चालक इधर-उधर गाड़ियां डालकर रखते हैं। – सौरभ शुक्ला
    • – स्टेशन के आस-पास आटो चालक बेतरतीब खड़े रहते हैं। जिसकी वजह से जाम की स्थिति रोजाना बनी रहती है। – विजय अग्रवाल
आटो चालकों पर समय-समय पर कार्रवाई की जाती है।प्रत्येक चौक-चौराहे में ट्रैफिक पुलिस धर-पकड़ करेगी। -सतीष ठाकुर, डीएसपी, यातायात, रायपुर

 

Ads

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here