Raipur Breaking : ना तो मैं कार में बैठी थी, ना ही मुझे किसी ने फेंका, सिर्फ प्रेमी की तलाश में आई थी

छत्तीसगढ़ के रायपुर में दो दिन पहले चलती कार से लड़की को फेंकने के मामले में नया मोड़ आ गया है। युवती ने शनिवार सुबह पूरी घटना होने से ही पुलिस से इनकार कर दिया है। युवती का कहना है कि न वह कार में बैठी ही नहीं। न तो उसे कार से फेंका गया। वह अपनी मर्जी से हरियाणा से रायपुर पहुंची है और प्रेमी को ढूंढ रही है। रायपुर के एक युवक से उसका पिछले कुछ समय से प्रेम संबंध है। युवती 29 जुलाई को नशे की हालत में बेसुध मिली थी।

हालांकि इस मामले में गुरुवार को जब पुलिस को लड़की मिली तो चश्मदीदों ने बताया था कि दो युवकों ने लड़की को कार से छोड़ा और भाग गए थे। एक CCTV फुटेज भी पुलिस को मिला था, हालांकि उसमें किसी लड़की को उतारने की तस्वीर पुलिस को नहीं दिखी। 29 जुलाई से युवती को अंबेडकर अस्पताल में ही रखा गया था, जहां से अब इस केस में नए तथ्य सामने आए हैं।

Ads


सिर्फ प्रेमी की तलाश में आई थी
सिर्फ प्रेमी की तलाश में आई थी
मेरे साथ कुछ गलत नहीं हुआ

29 जुलाई को जब पुलिस को खबर मिली कि उरला के सरोरा रोड पर लड़की लावारिस मिली है, तब टीम उसे अस्पताल लेकर गई। लड़की नशे में थी सिर्फ सोते रहने देने की जिद कर रही थी। लड़की के शरीर पर कोई चोट वगैरह के निशान नहीं थे। अब उसने तहसीलदार के सामने पुलिस से कह दिया है कि उसके साथ कोई गलत हरकत नहीं की गई वो किसी पर FIR नहीं करना चाहती। अब पुलिस जल्द इसे घर भेजने की तैयारी में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here