Murder In Chhattisgarh: राजनांदगांव में हरियाणा से आए दंपती की हत्‍या, अज्ञात आरोपितों की पुलिस कर रही तलाश…

Murder In Chhattisgarh: राजनांदगांव। छत्‍तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के घुमका थाना से लगे ग्राम सलोनी के खार पर खेती कर रह रहे हरियाणा दंपती की अज्ञात आरोपितों ने हत्या कर दी। घटना बीते बुधवार शाम सात बजे से गुरुवार शाम पांच बजे के बीच की है।

पुलिस के मुताबिक खेत में काम करने वाले नौकरों ने हरियाणा के कथैल निवासी 42 वर्षीय महावीर सिंह जाट और उनकी पत्नी 37 वर्षीय मीनाक्षी सिंह को बुधवार की शाम सात बजे देखा था। दूसरे दिन गुरुवार सुबह जब खेत में काम करने वाले उनके घर आए तो बाहर ताला लगा था। घंटेभर बाद भी जब कोई नही आया तो लेबर लौट गए।
घुमका पुलिस ने तत्काल उच्च अधिकारियों को सूचना दी, जिसके बाद एएसपी प्रज्ञा मेश्राम और खैरागढ़ एसडीओपी जीसी पति समेत पुलिस के अधिकारि मौके पर डाक स्कावाड की टीम लेकर पहुंचे। भिलाई से फारेंसिक टीम भी आई। जांच में पुलिस को कोई सुराग तो नहीं मिला है।
खैरागढ़ एएसडीओपी जीसी पति ने बताया कि मृतक महावीर सिंह जाट अपनी पत्नी मीनाक्षी के साथ सलोनी खार से लगे दुर्ग कसारीडीह के वानीराव देखमुख की 40 में से 28 एकड़ को रेघा में लेकर कुछ साल से कपास की खेती कर रहा था। इसके अलावा गुंडरदेही के डंगनिया, अर्जुंदा से लगे ढाबा और कटनी में भी महावीर जमीन लेकर खेती कर रहा था। दोनों की हत्या की खबर के बाद उनके खेत में काम करने वाले मजदूर स्तब्ध हो गए है। घुमका पुलिस मामले की जांच कर रही है। शुक्रवार सुबह दोनों के शव का राजनांदगांव जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया गया। पुलिस ने मृतक के स्वजनों को भी घटना की सूचना दे दी है।
दोपहर बाद जब महावीर सिंह की कोई खबर नहीं मिली तो जमीन मालिक दुर्ग कसारीडीह निवासी वानीराव देशमुख ने महावीर को फोन किया। उसने फोन नहीं उठाया, तब घुमका थाना पहुंचकर उसने महावीर और उसकी पत्नी के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और जमीन मालिक देशमुख के कहने पर घर का ताला तोड़वाया। अंदर जाकर देखा तो भीतर पति-पत्नी की खून से लथपथ लाश पड़ी थी, जिसे देख जमीन मालिक सहित पुलिस के भी होश उड़ गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here