लौट रहा कोरोना… UAE ने भारत-पाकिस्तान समेत इन देशों की यात्रा पर लगाया बैन…

24
Google search engine

दुनियाभर के कई देशों में कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के नए मामले फिर तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में कई देशों ने कोरोना प्रतिबंधों को फिर से लागू करना शुरू कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates) ने अपने नागरिकों के लिए 21 जुलाई तक भारत, पाकिस्तान समेत कई देशों में यात्रा करने पर बैन लगा दिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूएई सरकार ने गुरुवार को भारत, बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका, वियतनाम, नामीबिया, जाम्बिया, कांगो, युगांडा, सिएरा लियोन, लाइबेरिया, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया में नागरिकों के यात्रा प्रतिबंध की घोषणा की है.

इन देशों से उड़ानें 21 जुलाई तक रद्द
यूएई के जनरल सिविल एविएशन अथॉरिटी ने एयरमेन (NOTAM) को जारी एक नोटिस में कहा कि 14 देशों – लाइबेरिया, नामीबिया, सिएरा लियोन, डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो, युगांडा, जाम्बिया, वियतनाम, भारत, बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका, नाइजीरिया और दक्षिण अफ्रीका से उड़ानें 21 जुलाई, 2021 की रात 23:59 बजे तक निलंबित रहेंगे. कार्गो उड़ानों के साथ-साथ व्यापार और चार्टर उड़ानों को प्रतिबंधों से छूट दी जाएगी.

रिपोर्टों ने अमीरात के विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय आपातकाल, संकट और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का हवाला देते हुए कहा कि यात्रा के मौसम की शुरुआत के साथ नागरिकों को कोविड से संबंधित सभी एहतियाती उपायों का पालन करने की जरूरत है.

यूएई नागरिकों के लिए भी गाइडलाइन
यूएई ने यह भी कहा कि उसके नागरिकों को यात्रा के दौरान कोविड पॉजिटिव होने के मामले में सेल्फ आइसोलेट होना चाहिए. इसके साथ ही अपने मेजबान देशों द्वारा लागू सभी निर्देशों, जरूरतों और हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए. कोविड पॉजिटिव होने की स्थिति में यूएई नागरिकों को अपने मेजबान देशों में संयुक्त अरब अमीरात के दूतावासों को भी सूचित करना होगा.

सरकार ने कहा कि मेजबान देश में संबंधित अधिकारियों के साथ-साथ बात और यूएई में स्वास्थ्य विभागों से सहमति के बाद ही ऐसे संक्रमित नागरिकों को यूएई लौटने की अनुमति दी जाएगी. उनकी सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक सभी दिशा-निर्देशों और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा.

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here