लापरवाही पड़ सकती है भारी, इन दो राज्यों में अभी भी तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस, केरल कोरोना महामारी से अभी तक उबरा नहीं है और वहां जीका वायरस ने भी दस्तक दे दी है.

कोरोना संक्रमण के मामले फिलहाल नियंत्रण में दिखाई दे रहे हैं लेकिन कोरोना की दूसरी लहर अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है. स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि देश के 66 जिलों में अभी भी कोरोना संक्रमण की दर 10 फीसदी है, जो कि काफी चिंताजनक है. पर्यटन स्थलों और सार्वजनिक स्थानों पर जुट रही भारी भीड़ ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है. यही वजह है कि सरकार लगातार लोगों से सावधान रहने और कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने को कह रही है. 

इन राज्यों में स्थिति अभी भी खराब
देश के अधिकतर राज्यों में कोरोना संक्रमण के हालात अभी नियंत्रण में हैं लेकिन महाराष्ट्र और केरल में अभी भी ज्यादा मामले मिल रहे हैं. बता दें कि देश में मिल रहे कुल कोरोना मरीजों में से 53 फीसदी इन दो राज्यों में ही मिल रहे हैं. स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. जिसमें उन्होंने बताया कि पिछले हफ्ते महाराष्ट्र में कुल मामलों के 21 फीसदी और केरल में 32 फीसदी मामले मिले हैं.

Ads

कई देशों में फिर बढ़ रहे कोरोना केस
कोरोना संक्रमण से अभी भी दुनिया को राहत नहीं मिली है. दरअसल कई देशों में फिर से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं. इन देशों में रूस, ब्रिटेन और बांग्लादेश शामिल हैं. दावा किया जा रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर ने रूस में दस्तक दे दी है. 

केरल में जीका वायरस को लेकर अलर्ट
केरल कोरोना महामारी से अभी तक उबरा नहीं है और वहां जीका वायरस ने भी दस्तक दे दी है. दरअसल राज्य में जीका वायरस से संक्रमण के 14 मामले सामने आ चुके हैं. इसे लेकर राज्य सरकार अलर्ट पर है. केंद्र सरकार ने भी विशेषज्ञों की टीम केरल भेजी है. बता दें कि मच्छर के काटने से यह वायरस फैलता है और इसके संक्रमण के लक्षण भी डेंगू की तरह ही हैं. 

वहीं दूसरी तरफ कोरोना महामारी के बीच राहत की बात ये है कि देश में कोरोना वैक्सीन की 37 करोड़ डोज लग चुकी हैं. सरकार की कोशिश है कि तेजी से टीकाकरण कर कोरोना की तीसरी या आगे आने वाली लहरों को रोका जाए. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here