Homeराशिफलक्या कहती हैं आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें कि दिन होगा शुभ, जानिए...

क्या कहती हैं आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें कि दिन होगा शुभ, जानिए आज का राशिफल ?

आज का पंचांग- दिनांक  26.03.2021, शुभ संवत 2077 शक 1942, सूर्य उत्तरायन का फाल्गुन मास शुक्ल पक्ष द्वादशी तिथि … सुबह को 08 बजकर 22 मिनट तक उपरांत त्रयोदशी… दिन … शुक्रवार … मघा नक्षत्र … रात्रि को 09 बजकर 40 मिनट तक … आज चंद्रमा … सिंह राशि में … आज का राहुकाल दिन 10 बजकर 38 मिनट से 12 बजकर 09 मिनट तक होगा.

शुक्र प्रदोष व्रत –

यदि आप सभी वित्तीय समस्याओं से दूर रखना चाहते हैं तो आपको शुक्र प्रदोष व्रत का पालन करना चाहिए। इस व्रत का पालन करने से व्यक्ति सभी प्रकार क  आर्थिक एवं शारीरिक कष्ट से मुक्त हो सकता है।

यह माना जाता है कि मोक्ष का मार्ग केवल भगवान शिव की पूजा से प्राप्त किया जा सकता है। आध्यात्मिकता के मार्ग पर चलने वाले लोगों को हमेशा शुक्र प्रदोष व्रत का पालन करना चाहिए।

शुक्र प्रदोष व्रत का महत्व

अगर शुक्र आपके विवाह में अनुकूल नहीं है, तो एक गुलाबी धागे का उपयोग करके 11 लाल गुलाब की एक माला बनाऐं और फिर इसे भगवान के सामने रखें व ‘ओम नमः शिवाय’ का 27 बार जाप करें।

अगर आपको आँखों की समस्या है या आपको त्वचा की समस्या है तो गंगाजल को सफेद चंदन में मिलाकर पेस्ट बना लें और उसी पेस्ट को शिवलिंग पर लगाएं।

पूजा विधि

शुक्र प्रदोष व्रत में, पीतल के गिलास में, पानी भरकर उसमें थोड़ी चीनी मिलाकर सूर्य देव को चढ़ाएं।

“ओम नमः शिवाय’’ का जाप करें और शिवलिंग को पंचामृत (पांच चीजों से बने मिश्रण- दूध, दही, घी, शहद और शक्कर) भी चढ़ाएं। उसके बाद शिवलिंग पर सादा पानी चढ़ाऐं, रोली, मोली व चावल लगाऐं व धूप और दीया अर्पित करें। साबुत चावल और दूध में चीनी का उपयोग करके मिठाई बनाएं और शिव को फल चढ़ाएं। उसी स्थान पर चटाई पर बैठें और “ओम नमः शिवाय” का 108 बार जाप करें।

शुक्र प्रदोष व्रत के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

शुक्र प्रदोष व्रत के लिए आवश्यक विभिन्न सावधानियां निम्न हैं –

सभी महिलाएं जो आपके घर आई हैं, उन्हें मिठाई खिलाऐं और पानी पिलाएं।

स्थान को साफ करने के बाद ही पूजा करें।

कोई भी ऐसा कपड़ा न पहनें जो गहरे काले धागे से बना हो।

व्रत के दौरान बुरी बातों को सोचने से दूर रखें।

शुक्र प्रदोष व्रत की कथा सुने अथवा सुनायें। कथा समाप्ति के बाद हवन सामग्री मिलाकर 11 या 21 या 108 बार “ऊँ ह्रीं क्लीं नम: शिवाय स्वाहा ” मंत्र से आहुति दें। उसके बाद शिव जी की आरती करें। उपस्थित जनों को आरती दें। सभी को प्रसाद वितरित करें । उसके बाद भोजन करें। भोजन में केवल मीठी सामग्रियों का उपयोग करें।

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-

मेष राशि –

सम्मान की प्राप्ति…

कर्ज की वापसी….

वाहन से चोट….

चंद्रमा के उपाय –

ऊॅ सों सोमाय नमः का जाप करें,

चावल, कपूर, का दान करें..

वृषभ –

व्यवसायिक संबंधों में खटास….

कोर्ट में धन संबंधित विवाद…..

व्यर्थ की यात्रा…..

राहु के उपाय –

ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें..

मिथुन –

ऊर्जा तथा उत्साह में वृद्धि…..

काम में एकाग्रता….

वातरोग से कष्ट….

केतु के उपाय –

गणपति की उपासना करें, धूप, दीप तथा नैवेद्य चढ़ायें,

गुरूजन को मीठी चीजों का दान करें,

ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

कर्क –

नये काम की शुरूआत…

अचानक यात्रा से स्वास्थ्य या गले में कष्ट…..

शनि के उपाय-

‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें..

सिंह –

आज आपका दिन बेहतर रहेगा..

आर्थिक मामलों में आपको सफलता मिलेगी..

कार्यक्षेत्र में फायदा मिल सकता है..

पहले लिए गये फैसले कारगर साबित होंगे..

सूर्य के उपाय –

ऊ धृणिः सूर्याय नमः का जाप कर, अध्र्य देकर दिन की शुरूआत करें,

लाल पुष्प, गुड, गेहू का दान करें..

कन्या –

स्थान परिवर्तन के योग….

कार्यक्षेत्र में लाभ….

पार्टनर की सेहत तथा खराब मानसिक स्थिति…..

बृहस्पति की शांति के लिए –

ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें,

मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें..

तुला –

आर्ट फिल्ड में यश की प्राप्ति….

नई योजनाओं में अच्छी सफलता….

संबंधों में निकटता…

शुक्र के लिए-

ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें तथा मा महामाया के दर्शन कर दिन की शुरूआत करें,

चावल, धी, दूध, दही का दान करें साथ ही सौभाग्यवती स्त्री को सुहाग का सामान दान करें…

वृश्चिक –

व्यवसाय में हानि….

पारिवारिक रिश्तों में दूरी….

विरोध तथा विवाद से हानि…

राहु दोषों के निवारण के लिए –

ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें….

धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें…

धनु –

मनोबल काफी अच्छा रहेगा…

काम में अच्छी सफलता मिलेगी…

आतुरता के कारण शारीरिक कष्ट की संभावना…

मंगल की शांति के लिए –

ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें,

हनुमानजी की उपासना करें,

मसूर की दाल, गुड या तांबा दान करें…

मकर –

धन, संपत्ति की प्राप्ति….

काम में अच्छी सफलता के योग….

कफ, कमर में दर्द तथा उदर विकार से कष्ट….

शनि से उत्पन्न कष्ट के लिए –

‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें..

कुंभ –

रूका हुआ भुगतान प्राप्त होगा…..

आय के नए साधनों की योजना बनेगी….

आलस्य तथा निर्णय में विलंब से बचें….

राहु कृत दोषों की शांति के लिए –

ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें…

मीन –

कार्यो में विफलता….

छोटे बच्चों को चोट की संभावना….

राज्यपक्ष से लाभ….

बृहस्पति की शांति के लिए –

ऊॅ ब्रं ब्रहस्पतये नमः का जाप करें….

मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments