बीच रास्ते में पुलिस ने रोककर तलाशी ली तो निकला लाखों का माल, दो कारोबारियों को किया गया गिरफ्तार…

रायपुर के गंज थाने की पुलिस ने एक लाख से अधिक का अवैध गुटखा बरामद किया है। इसकी सप्लाई ई-रिक्शा के जरिए हो रही थी। बोरियों में भरे गुटखे को रायपुर के गली मोहल्ले की दुकानों में खपाने की तैयारी थी। मुखबिरों से मिले इनपुट के आधार पर पुलिस ने इस गुटखे से भरीं बोरियों को बरामद करने में कामयाबी हासिल की। गुटखे की बोरियों से लदी ई रिक्शा पुलिस को फाफाडीह ओवर ब्रिज के नीचे खड़ी मिली। इसका चालक हेमंत अपने कुछ साथियों का इंतजार कर रहा था, मगर तब तक पुलिस ने यहां पहुंचकर इसे पकड़ लिया।

पुलिस की गिरफ्त में मनोज और विरेंद्र।

पुलिस की गिरफ्त में मनोज और विरेंद्र।

Ads

दो कारोबारियों को लाया गया थाने

गंज थाने की पुलिस ने बताया कि बोरियों में कुल कितने रुपए का गुटखा है, इसका आंकलन कर रहे हैं। अब तक एक लाख से अधिक का गुटखा होने का अनुमान है। ई रिक्शा के चालक हेमंत ने पुलिस को बताया कि ये माल कारोबारी विरेंद्र अग्रवाल और मनोज ने उसे दिया था। गंज इलाके में ही ये लोग अपनी दुकानें चलाते हैं। पुलिस ने इन्हें भी गिरफ्तार कर लिया है। कारोबारी गुटखे से जुड़ा कोई बिल या दस्तावेज पेश नहीं कर पाए हैं। पुलिस को शक है कि टैक्स चोरी या स्टॉक चोरी की वजह से चोरी छिपे गुटखा छोटी दुकानों में भेजने की तैयारी रही होगी, फिलहाल जांच जारी है।

पहले भी हो चुकी है इस तरह की कार्रवाई

रायपुर से लगे महासमुंद जिले में अवैध गुटखे के कई मामले सामने आ चुके हैं। कई बार महासमुंद से इसी तरह बिना किसी बिल या दस्तावेज के गुटखा रायपुर लाया जाता है। कुछ दिनों पहले ही बसना के थोक व्यापारी से गुटखा खरीदकर सरायपाली क्षेत्र में खपाने के लिए ले जा रहे कार सवारों को पुलिस ने पकड़ा था। जब वहां 9 बोरी गुटखा, एक लाख रुपए नगद बरामद किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here