Happy Govardhan Puja 2021: गौरी-गौरा और गोवर्धन पूजा की मचेगी धूम, चूलमाटी से प्रतिमा बनाकर करेंगे स्थापना

HEERA MANIKPURI

Happy Govardhan Puja 2021: रायपुर। छत्तीसगढ़ी परंपरा के अनुरूप ग्रामीण इलाकों और राजधानी रायपुर के अनेक मोहल्लों में स्थापित गौरी-गौरा चौक पर दीपावली की रात गौरी-गौरा की प्रतिमा स्थापित करके रातभर पूजा-अर्चना की जाएगी। दीपावली की सुबह गुरुवार को प्रतिमा बनाने के लिए तालाब से चूलमाटी लाने की परंपरा निभाई गई। इसी माटी से गौरी-गौरा की प्रतिमा बनाकर आधी रात को स्थापित करेंगे। दीपावली के दूसरे दिन दोपहर बाद गौरी-गौरा को विसर्जन के लिए तालाब ले जाया जाएगा। इस दौरान श्रद्वालु नाचते गाते आतिशबाजी करते नजर आएंगे।

यदुवंशी मातर जगाने की निभाएंगे परंपरा
पांच दिवसीय दीपावली पर्व के चौथे दिन शुक्रवार को यादव समाज के लोग गोवर्धन पूजा पर मातर जगाने की परंपरा निभाएंगे। घर-घर में गाय के गोबर से गोवर्धन पर्वत बनाकर पूजा-अर्चना की जाएगी। टिकरापारा बाजार चौक पर यदुवंशी अपने कुलदेवता साहड़ा देव, गोमाता और भगवान श्रीकृष्ण की पूजा-अर्चना करके गोवर्धन पूजा पर्व की शुरुआत करेंगे। पारंपरिक गाड़ा बाजा के साथ राउत नाचा करते हुए उत्सव मनाएंगे। गोमाता के दूध की खीर बनाकर प्रसाद ग्रहण करेंगे।
खूब खरीदी गई लाठियां
राउत नाचा करते हुए यादव समाज के लोग जो लाठी लहराते हैं, उस लाठी का बाजार बूढ़ेश्वर मंदिर के पास सजा था। गांव-गांव से लाठी बेचने के लिए अनेक लोग पहुंचे हैं। लाठी बाजार तीन दिनों तक सजेगा। गोवर्धन पूजा में प्रत्येक यादव बंधु के हाथ में लाठी दिखाई देगी। बुधवार को यादव बंधुओं ने खूब लाठियां खरीदी। अब इन लाठियों में तेल लगाकर लाठी को मजबूत किया जाएगा। गोवर्धन पूजा के दिन गोमाता के साथ लाठी की भी पूजा की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here