द्वारकाधीश मंदिर पर गिरी आकाशीय बिजली, सिर्फ झंडे को नुकसान

20
Google search engine

गुजरात की धार्मिक नगरी द्वारका में भगवान कृष्ण के मंदिर पर आसमानी बिजली गिरी है। द्वारकाधीश में आसमानी बिजली गिरने से मंदिर के शिखर पर लगी ध्वजा को नुकसान पहुंचा है। हालांकि इसके अलावा किसी तरह का दूसरा नुकसान नहीं हुआ है। न तो किसी व्यक्ति को इस घटना में चोट आई है और न ही मंदिर परिसर में कोई बड़ा नुकसान हुआ है। देश में मानसून आ चुका है और देश के कई हिस्सों में जमकर बारिश हो रही है। इसी वजह से बिजली गुरने की घटनाएं भी सामने आ रही हैं। पिछले कुछ दिनों में बिजली गिरने से देश में 40 लोगों की मौत हो चुकी है।

गुजरात के द्नारका में भी भारी बारिश के दौरान द्वारकाधीश में बिजली गिरी है। इससे पहले राजस्थान में बिजली गिरने से बड़ा हादसा हुआ था। बाद में बताया गया कि बारिश के दौरान बड़ी संख्या में पर्यटक पहाड़ में मौजूद थे और मोबइल नेटवर्क की वजह से बिजली गिरी थी। हालांकि द्वारका में ऐसा कुछ नहीं था और मंदिर के शिखर पर मौजूद ध्वज ने पूरी बिजली अवशोषित करके उसी जमीन में पहुंचा दिया। इसी वजह से वहां कोई नुकसान नहीं हुआ है।

गुजरात में 14 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के अनुसार गुजरात के तटवर्ती क्षेत्रों में और कुछ अन्य इलाकों में 14 जुलाई तक तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होगी। मौसम विभाग ने मछुआरों को सलाह दी है कि इस दौरान अरब सागर में न जाएं। आईएमडी के अहमदाबाद केंद्र ने जाखू और दीव के बीच उत्तरी गुजरात के तटवर्ती क्षेत्र में 2.5-3.6 मीटर तक समुद्री लहर उठने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने कहा “11-14 जुलाई के दौरान गुजरात के उत्तरी और दक्षिणी तटों और उत्तरी अरब सागर में हवा की गति 45-55 किमी प्रति घंटे से 65 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की आशंका है।”

गुजरात के सिर्फ 3 जिलों में सामान्य बारिश

मौसम विभाग के अनुसार गुजरात में अब तक सामान्य से 48 फीसदी कम बारिश हुई है। गुजरात में कुल 33 जिले हैं और इनमें से सिर्फ 3 जिलों में अब तक सामान्य बारिश हुई है। मौसम विभाग ने अपने ताजा बुलेटिन में कहा “सौराष्ट्र-कच्छ क्षेत्र समेत गुजरात के कई स्थानों और केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव में 11 से 14 जुलाई के बीच हल्की से मध्यम बारिश होगी। दक्षिण गुजरात के कुछ हिस्सों में भी भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here