CORONA BREAKING: भारत सरकार का बड़ा निर्णय, अब घर-घर जाकर लगेगी कोरोना वैक्सीन, डोर-टु-डोर वैक्सीनेशन के लिए नई गाइडलाइंस हुई जारी

CORONA BREAKING: भारत सरकार का बड़ा निर्णय, अब घर-घर जाकर लगेगी कोरोना वैक्सीन, डोर-टु-डोर वैक्सीनेशन के लिए नई गाइडलाइंस हुई जारी

नई दिल्ली : देश में कोरोना के नए मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। वैक्सीनेशन (vaccination) का आंकड़ा भी 83 करोड़ के पार हो गया है। इस बीच केंद्र सरकार(central government) ने एक बड़ा फैसला लिया है। देश में डोर-टू-डोर कोविड 19 वैक्सीन लगेगी। लोगों को घर-घर जानकार वैक्सीन लगाई जाएगी।

Ads

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि भारत में डोर टू डोर कोविड टीकाकरण की अनुमति दी गई है। इसके लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि हम उन लोगों के लिए घर पर टीकाकरण शुरू कर रहे हैं जो टीकाकरण केंद्रों में जाने में सक्षम नहीं हैं। एडवाइजरी जारी की गई है। एसओपी का पालन किया जाएगा।

वही केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि कुछ राज्यों में वैक्सीनेशन पर जबरदस्त काम हुआ है। इस वजह से 18 साल से अधिक उम्र के 66 फीसद लोगों को कोरोना का कम से कम एक डोज लग चुका है। 23 फीसद को दोनों डोज लग गए हैं।

6 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों ने अपनी 100 फीसद आबादी को पहला डोज लगा दिया है। इनमें लक्षद्वीप, चंडीगढ़, गोवा, हिमाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और सिक्किम शामिल हैं। 4 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों में 90 फीसद से ज्यादा आबादी को पहला डोज लगाया गया है। इनमें दादरा और नगर हवेली, केरल, लद्दाख और उत्तराखंड हैं।

केरल में सबसे ज्यादा एक्टिव केस
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले घटने के बावजूद अब भी हम महामारी की दूसरी लहर के बीच में हैं। केरल एकमात्र ऐसा राज्य है, जहां कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या एक लाख से अधिक है; पिछले हफ्ते सामने आए कुल मामलों में 62.73 प्रतिशत इसी राज्य से थे। 33 जिलों में साप्ताहिक स्तर पर कोविड-19 के 10 प्रतिशत से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं, जबकि 23 जिलों में 5 से 10 प्रतिशत मामले सामने आ रहे हैं। त्योहारों के लिए कोविड दिशानिर्देशों के तहत, निरूद्ध क्षेत्रों में और पांच प्रतिशत से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों में लोगों के जमावड़े को रोका जाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here