Chhattisgarh Congress Updates: राहुल गांधी से मिलकर सीएम भूपेश बघेल बोले-दिल की बात अपने नेता से कह दी

Chhattisgarh Congress Updates: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार का टकराव दिल्ली पहुंच गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली में हैं। करीब 50 विधायक और मंत्री भी राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे हैं। राहुल गांधी से तीन घंटे से अधिक समय तक भूपेश बघेल की बात हुई। मीडिया से बातचीत में बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विकास और राजनीति के बारे में राहुल गांधी के साथ विस्तार से चर्चा हुई। मैंने सभी बातें उनके सामने रखी। मैंने राहुल गांधी से आग्रह किया कि वे छत्तीसगढ़ आएं और वे अगले हफ़्ते छत्तीसगढ़ आएंगे।

नेतृत्‍व परिवर्तन की अटकलों के बीच क्‍या वे ही मुख्‍यमंत्री रहेंगे- मीडिया के इन एकाधिक सवालों के जवाब पर उन्‍होंने इतना ही कहा कि मैंने सीएम के तौर पर राहुलजी को छत्‍तीसगढ़ आमंत्रित किया है । राज्‍य में नेतृत्‍व परिवर्तन के सवालों को टालते हुए उन्‍होंने यह भी कहा कि इसका जवाब प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया पहले ही दे चुके हैं।

Ads

इसे भी पढ़े – बड़ी खबर….छत्तीसगढ़ में आज बदलेगा सीएम? 40 विधायक भी दिल्ली में डटे….सांसद सरोज पांडेय नें कहा: कांग्रेस के लिए सत्ता सुख भोगने का साधन है, जनसेवा का माध्यम नहीं…

इससे पहले भूपेश बघेल ने कहा था कि उन्हें केसी वेणुगोपाल का संदेश मिला था कि राहुल गांधी मिलना चाहते हैं। यही कारण है कि वे दिल्ली आए हैं। बकौल भूपेश बघेल, मुझे बुलाया गया तो मैं दिल्ली पहुंचा। क्या कोई अपने नेता से भी नहीं मिल सकता है? कुछ लोग बिना बुलाए दिल्ली पहुंच गए हैं। वहीं रायपुर से दिल्ली पहुंचे 50 विधायकों का कहना है कि वे भूपेश बघेल को बदले जाने के पक्ष में नहीं हैं। इन विधायकों का कहना है कि यदि नेतृत्व परिवर्तन किया गया तो उनके लिए अगले चुनाव जीतना मुश्किल हो जाएगा। सभी विधायकों ने दिल्ली में पीएल पुनिया के साथ बैठक की है।

वहीं दिल्ली पहुंचे बघेल सरकार में मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि जब कोई टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है तो उसके कप्तान को बदलने की मांग उठती है, लेकिन छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की टीम अच्छा काम कर रही है। इससे पहले गुरुवार देर रात दिल्ली पहुंचे छत्तीसगढ़ कांग्रेस के विधायकों ने छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया के आवास पर बैठक की।

इसे भी पढ़े – Chhattisgarh Congress Updates: दिल्ली पहुंचे 50 विधायक बदलाव के पक्ष में नहीं, थोड़ी देर में राहुल गांधी से मिलेंगे भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने भी कहा है कि आलाकमान की ओर से किसी विधायक या मंत्री को नहीं बुलाया गया है। उधर, इस मामले में छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने रायपुर में कहा कि मैं सभी विधायकों से आलाकमान के निर्देशों का पालन करने और पार्टी के अनुशासन को बनाए रखने की अपील करता हूं। उन्होंने आगे कहा कि मुझे हाईकमान से कोई समन नहीं मिला है। विधायकों को भी नहीं बुलाया गया है।

मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की दो तिहाई बहुमत के साथ सरकार है। कांग्रेस की छग सरकार पूरी दृढ़ता के विधानसभा चुनाव के जनघोषणा पत्र के अपने वायदों को पूरा करेगी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चुनाव के पहले छत्तीसगढ़ की जनता से सुशासन और जनसरोकारों वाली सरकार देने का वायदा किया था। कांग्रेस की प्राथमिकता उन वायदों को पूरा करने की है। छत्तीसगढ़ का हर कांग्रेसी रास्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ देश की सांप्रदायिक और विघटनकारी ताकतों के खिलाफ पूरी दृढ़ता से खड़ा है।

इसे भी पढ़े – Political News: इंटरनेट मीडिया बना बघेल और सिंहदेव समर्थको का सियासी अखाड़ा…

मोहन मरकाम ने यह बात उन खबरों के बीच कही है, जिसमें कहा जा रहा है कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष को दिल्ली बुलाया गया है। उधर, छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि सीएम भूपेश बघेल ने राहुल गांधी से मिलने के लिए समय मांगा था। कल उनसे मुलाकात होगी। आलाकमान या किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किसी अन्य विधायक को दिल्ली नहीं बुलाया गया है। ऐसी सूचना प्रसारित करना भ्रामक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here