Homeअकलतरा खबरBig Breaking News Akaltara - जांजगीर-चांपा अकलतरा तहसील अधिवक्ता संघ.... सचिव यज्ञ...

Big Breaking News Akaltara – जांजगीर-चांपा अकलतरा तहसील अधिवक्ता संघ…. सचिव यज्ञ कुमार साहू के विरुद्ध पुलिस ने मामला दर्ज किया… अधिवक्ता संघ के द्वारा गृहमंत्री….

Big Breaking News Akaltara जांजगीर-चांपा. अकलतरा तहसील अधिवक्ता संघ के सचिव यज्ञ कुमार साहू के विरुद्ध पुलिस ने मामला दर्ज किया है, जिसके विरोध में जिला अधिवक्ता संघ के द्वारा गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को पत्र लिखकर मामले को संज्ञान में लेने की मांग की गई है. मांग में कहा गया है कि सचिव के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए. अधिवक्ता संघ के द्वारा प्रदेश में अधिवक्ता प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की भी मांग की जा रही है.

दरअसल, तहसील अधिवक्ता संघ का आरोप है कि अधिवक्ता यज्ञ कुमार साहू पर अकलतरा पुलिस ने बजरंग बली की मूर्ति तोड़ने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और गाली-गलौज करने सहित अलग-अलग धाराओं में नामजद रिपोर्ट दर्ज किया है, जबकि पुलिस जिस समय घटनाक्रम का होना बता रही है, उस समय यज्ञ कुमार साहू अकलतरा में थे, जिसका सीसीटीवी फुटेज भी कैमरे में मौजूद है. पुलिस के द्वारा अधिवक्ता के विरुद्ध बिना विवेचना के झूठे गवाहों के आधार पर रिपोर्ट दर्ज करने का आरोप, अधिवक्ता संघ ने लगाया है.

इसे भी पढ़े –Aaj Ka Taaja Panchang 03 January 2021: आज यानी 03 जनवरी 2021

इसे भी पढ़े – Aaj Ka Rashifal 3 January 2021 – आज का राशिफल 3 जनवरी 2021

गौरतलब है कि यह पूरा मामला रसेड़ा गांव के गौठान की साढ़े 7 एकड़ जमीन पर बेजाकब्जा करने से जुड़ा हुआ है. गांव के दबंगों के द्वारा शासकीय जमीन पर बेजाकब्जा किया गया है, जिसका विरोध अधिवक्ता यज्ञ कुमार साहू सहित ग्रामीण लगातार कर रहे हैं और इसी के तहत उन्हें साजिश में फंसाया गया है, ऐसा अधिवक्ता संघ का आरोप है. इस पूरे मामले को लेकर ग्रामीण भारी तादाद में 31 दिसंबर को कलेक्ट्रेट का घेराव करने भी पहुंचे थे, जिस दौरान पुलिस के द्वारा बलप्रयोग कर उन्हें रोका गया था और तत्काल बेजाकब्जा छुड़वाने का आश्वासन देकर वापस भेजा गया था.

अधिवक्ताओं ने इस पूरे मामले के बाद अब छत्तीसगढ़ में अधिवक्ता प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग भी की है. फिलहाल, अधिवक्ताओं के आंदोलन पर अधिकारियों का बयान नहीं आया है, मगर जल्द आंदोलन समाप्त नहीं होने पर न्यायालय आने वाले पक्षकारों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

Big Breaking News Akaltara जांजगीर-चांपा-अकलतरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments