बेटी की जली-कटी बातें सुनकर मां का दिल भर आया, खा लिया जहर, अस्पताल से डिस्चार्ज होने के पहले टाॅयलेट में लगा ली फांसी

57
Google search engine
  • रायपुर: मां-बेटी में जबदस्त विवाद हुआ जिसके बाद मां ने जहर खाकर जान दे दी। अंबेडकर अस्पताल में महिला का इलाज चल रहा था और आज ही वह डिस्चार्ज होने वाली थी। उसके पहले ही महिला ने अस्पताल के टाॅयलेट में फांसी लगाकर जान दे दी।

मिली जानकारी के अनुसार महिला का नाम सुनीता धीवर था और वह मंदिर हसौद के अंतर्गत धमधी गांव की रहने वाली थी। सुनीता का अपनी बेटी के साथ आए दिन विवाद होता था। 26 जून को भी सुनीता और उसकी बेटी का विवाद हुआ और उसकी जली-कटी बातें सुनकर उसने जहर पी लिया। महिला की तबीयत बिगड़ने के बाद उसके पति मोहन धीवर ने आरंग के प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र में उसका इलाज कराया।

प्राथमिक उपचार होने के बाद उसे रायपुर के अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया। गुरूवार को उसे डिस्चार्ज किया जाना था लेकिन उसने कुछ और ठान लिया था। वह दोपहर को टाॅयलेट में अपनी एक साड़ी लेकर गयी और कचरे के डिब्बे पर चढ़कर साड़ी रोशनदान से बांधी और इसी पर फांसी लगा ली।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here