Homeलाइफ / साइंसग्रीन-टी पिएं, खाने में हरी सब्जियों की मात्रा बढ़ाएं और रोजाना 10...

ग्रीन-टी पिएं, खाने में हरी सब्जियों की मात्रा बढ़ाएं और रोजाना 10 मिनट जरूर दौड़ें

  • ग्रीन-टी पिएं, खाने में हरी सब्जियों की मात्रा बढ़ाएं और रोजाना 10 मिनट जरूर दौड़ें

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए SUBSCRIBE  करें Taaja Khabar 

  • कॉपी लिंक
  • नट्स इंसान को कैंसर, स्ट्रोक, सांस की बीमारी, दिमाग की बीमारी से भी बचाता है
  • रोजाना दौड़ने की आदत मौत के खतरे को काफी हद तक कम कर देती है

दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने जीवन को हेल्दी और लंबा करने के लिए कई रिसर्च की हैं। रिसर्च के नतीजे बताते हैं कि खुद को हेल्दी रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। जैसे- ग्रीन टी, ड्राय फ्रूट, सब्जियां और कुछ मिनट की दौड़। जानिए, इन्हें कैसे अपने लाइफ में शामिल करके खुद को स्वस्थ रखें….

1. ग्रीन टी पीने से जीवन लंबा होता है
बीएमजे ओपन डायबिटीज रिसर्च एंड केयर जर्नल में अक्टूबर में पब्लिश रिसर्च के मुताबिक, जिन लोगों को डायबिटीज है वो अगर कॉफी या ग्रीन टी पीना शुरू करते हैं तो वे समय से पहले होने वाली मौत से बच सकते हैं। यह रिसर्च 5000 लोगों पर 5 सालों तक की गई। जिन्हें डायबिटीज नहीं है उनके लिए भी ग्रीन टी और कॉफी फायदेमंद है। कॉफी और ग्रीन टी में कई ऐसे प्लांट कम्पाउंड होते हैं जिनके एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के कारण यह सेहत के लिए अच्छी होती है।

2. दौड़िए, कई बीमारियों से बचेंगे
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सप्ताह में कम से कम 75 मिनट तेजी से रनिंग, साइकिलिंग और स्वीमिंग जैसी एरोबिक एक्सरसाइज करने के लिए कहा है। कई लोग रोजाना 35 मिनट वॉक या जॉगिंग करते हैं।

पिछले साल ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में पब्लिश एक अध्ययन में बताया गया कि आप रोज दौड़िए। भले ही कुछ ही दूरी तक दौड़ें। थोड़ा दौड़ने की आदत भी इंसान के किसी भी कारण से होने वाली मौत के खतरे को कम कर देती है।

3. रोज थोड़ा-सा ड्राई फ्रूट
ऑक्सफोर्ड के इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एपिडेमियोलॉजी में 2015 में छपे एक शोध में बताया गया कि रोज बादाम, अखरोट, पिस्ता जैसे नट्स खाने की आदत जीवन में मौत के खतरे को कम करती है। अभी तक माना जाता था नट्स का सबसे ज्यादा फायदा दिल को होता है, लेकिन इस रिसर्च के मुताबिक, नट्स इंसान को कैंसर, स्ट्रोक, सांस की बीमारी, दिमाग की बीमारी आदि से भी बचाता है।

4. खानपान में सब्जियां बढ़ाइए
जर्नल ऑफ द अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में पिछले साल पब्लिश हुई रिसर्च में बताया गया कि प्लांट बेस्ड फूड को डाइट में शामिल करने से कार्डियोवैस्कुलर डेथ का खतरा 32 फीसदी तक कम हो जाता है। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल की कैथरीन डी मैकमनस कहती हैं कि प्लांट बेस्ड डाइट का मतलब सिर्फ फल और सब्जियां नहीं है। इनमें नट्स, सीड्स ऑइल, होल ग्रेन, बीन्स आदि भी आते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments